संस्कृति

'कानपूर वाले खुरानाज' के साथ नया कॉमेडी शो लेकर आ रहे हैं सुनील ग्रोवर

नई दिल्ली: लंबे समय से टीवी से कॉमेडी शो गायब थे लेकिन अब एक साथ दो शो लोगों को गुदगुदाने के लिए तैयार हैं. जहां कपिल शर्मा अपने शो का नया सीजन लेकर तैयार हैं. तो वहीं उनके पिछले शो के रिश्तेदार ही उन्हें टक्कर देने के लिए खड़े हो चुके हैं. जी हां अब कपिल की ऑन स्क्रीन दादी और बुआ के साथ सुनील ग्रोवर नया शो 

'कानपुर वाले खुरानाज' लेकर आ रहे हैं. सुनील और शो की टीम ने शूटिंग की तस्वीरों के साथ शो की जानकारी दी है. जाने माने कॉमेडियन और कपिल शर्मा के शो में डॉ. मशहूर गुलाटी का रोल करने वाले सुनील ग्रोवर नया शो लेकर आ रहे हैं. सुनील ग्रोवर ‘स्टार प्लस’ के नए शो ‘कानपुर वाले खुराना’ के साथ छोटे पर्दे पर वापसी करने को तैयार हैं. जबकि कुछ दिन पहले ही खबर आई थी कि वह कपिल के शो में एक बार फिर से नजर आने वाले हैं. लेकिन यह बात बाद में गलत साबित हुई थी. कॉमेडियन कीकू शारदा ने बताया था कि सुनील और कपिल की सुलह नहीं हुई है. 

जानकारी देते हुए सुनील ग्रोवर ने कहा कि शो के नये कॉन्सेप्ट ने उन्हें इसे करने के लिए प्रेरित किया. ग्रोवर ने एक बयान में कहा, 'मैं नए कॉन्सेप्ट के साथ छोटे पर्दे पर वापसी करने को लेकर खुश हूं. यह किरदार मेरे द्वारा पहले निभाए किरदारों से अलग है और मैं दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए इस सफर को शुरू करने को तैयार हूं.' वहीं अपने सोशल मीडिया एकाउंट से भी सुनील ग्रोवर ने इस शो के जल्द स्क्रीन पर आने की घोषणा की है. यह शो स्टार प्लस पर आएगा वहीं कपिल का शो सोनी एंटरटेनमेंट पर आने के लिए तैयार है हाल ही में सुनील ने सलमान खान की फिल्म 'भारत' की शूटिंग पूरी की है. इस शो में उनके साथ छोटे पर्दे पर नागिन के रोल से सुर्खियां बटोरने वाली अदा खान भी नजर आ सकती हैं. सुनील ग्रोवर के साथ जो कॉमेडी के स्टार्स नजर आने वाले हैं वह हैं अली असगर, सुगंधा मिश्रा, उपासना सिंह. इस शो का प्रसारण शनिवार को रविवार को होगा.

ऐसा होगा कंसेप्‍ट
इस टीवी शो के सेट से पहली फोटो भी सामने आ गई हैं. इस शो का कंसेप्‍ट कपिल शर्मा के शो से पूरी तरह अलग होगा. यह जीजा साली के कंसेप्‍ट पर आधारित शो होगा. इंस्‍टाग्राम पर जो तस्वीर आई है उसमें पूरी टीम काफी उत्साहित नजर आ रही है. तो अब देखना होगा कि दो कॉमेडी शो जब एक साथ दर्शकों के सामने आएंगे तो दर्शक किसे ज्यादा पसंद करते हैं. 

और पढ़ें ...

अब Airtel और Voda ने भी पोर्न साइट्स को किया बैन

हाल ही में रिलायंस जियो द्वारा भारत में पोर्न वेबसाइट को ब्लॉक करने की जानकारी पेश किया गया था। जिससे यह काफी चर्चा का विषय बन गया था। रिलायंस जियो को बाद बाकी टेलिकॉम कंपनियों ने इस विषय को गंभीरता से ले लिया है। जिसके चलते जानी-मानी कंपनियों जैसे एयरटेल और वोडाफोन ने अपने नेटवर्क पर 827 पोर्नोग्राफिक्स वेबसाइट्स को बंद कर दिया है। बता दें, पिछले हफ्ते ही टेलीकॉम डिपार्टमेंट ने टेलिकॉम ऑपरेटरों को पॉर्न वेबसाइट ब्लॉक करने का निर्देश दिया था। जिसके बाद मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो ने अपने नेटवर्क पर सबसे पहले करीब 800 पॉर्न वेबसाइट पर बैन लगा दिया था।

बता दें उत्तराखंड हाईकोर्ट ने 28 सितंबर को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर टेलीकॉम ऑपरेटरों ने पोर्न साइट को बैन नहीं किया, तो उनके लाइसेंस रद्द किए जा सकते हैं। इसके तुरंत बाद ही DoT ने सभी इंटरनेट सर्विस कंपनियों को पोर्न साइट ब्लॉक करने का आदेश दिया था। जिसके बाद रिलायंस जियो ने सबसे पहले इस निर्देश का पालन किया।

जियो द्वारा पोर्न साइट बैन करने पर पॉप्युलर पोर्न वेबसाइट Pornhub ने अपना डोमेन डॉट कॉम बदलकर डॉट नेट कर लिया है। पोर्नहब' ने इस बात की जानकारी ट्वीट के द्वारा दी। उन्होंने कहा कि भारत में हमारी वेबसाइट पर बैन लगाए जाने के बाद हमने अपने ग्राहकों के लिए साइट का डोमेन बदल दिया है। जिससे वह इसे देख सकेंगे। हालांकि बिजनेस इंसाइडर में छपी खबर में बताया गया कि जियो नेटवर्क पर अभी भी कुछ पॉर्न साइट्स खुल रही हैं। यूजर्स अलीबाबा UC ब्राउजर के जरिए जियो नेटवर्क पर अश्लील साइट्स को खोल रहे हैं। देखना यह है कि यह पोर्न वेबसाइट पूरी तरह से बैन होती हैं या नहीं। हालांकि वोडाफोन और एयरटेल यूजर्स अपने नेटवर्क में पोर्न नहीं देख सकेंगे।

और पढ़ें ...

Google ड्राइव पर बिना WiFi के जल्द ही डेटा बैकअप कर सकेंगे आप

सैन फ्रांसिस्को: स्मार्टफोन के खराब होने पर आप सबसे ज्यादा चिंता उसमे मौजूद डेटा की करते हैं. हालांकि अभी तक यह डेटा एंड्रायड प्लेटफॉर्म पर चलने वाले फोन का बैकअप ऑटोमैटिक गूगल ड्राइव में सेव हो जाता था लेकिन इसके लिए फोन को चार्जिंग पर होना जरूरी होता था. साथ ही फोन को वाई-फाई से कनेक्ट होना चाहिए था लेकिन इस टेंशन से जल्द ही छुटकारा मिलने वाला है. अब आप मैन्युअल तरीके से एक बटन दबाकर फोन का बैकअप गूगल ड्राइव पर ले सकेंगे. 

9टू5गूगल की शुक्रवार की रिपोर्ट में बताया गया कि पहले बैकअप के लिए स्मार्टफोन का वाई-फाई नेटवर्क से जुड़ा होना और चार्जिग मोड में रहना जरूरी थी. इसके कारण अगर हैंडसेट में चार्ज नहीं होने या वाई-फाई से कनेक्ट नहीं होने जैसी खराबी आ जाती थी, तो गूगल ड्राइव पर डेटा का बैकअप नहीं लिया जा सकता था. 

रिपोर्ट में कहा गया, "ट्विटर यूजर एलेक्स क्रुगर ने इस फीचर पर सबसे पहले गौर किया. उन्होंने बताया कि सभी तरह के एंड्रायड डिवाइसों के बैकअप सेटिंग्स में एक नया 'बैकअप नाऊ' बटन आया है. यह फीचर 2014 में जारी एंड्रायड मार्शमैलो ओएस पर चल रहे डिवाइसों के लिए भी जारी किया गया है." गूगल द्वारा मैनुअल बैकअप फीचर जारी करने का सबसे पहले अगस्त में अनुमान लगाया गया था.
 
नई सुविधा का इनको होगा फायदा
गूगल ड्राइव में डेटा मैनुअल तरीके से सुरक्षित करने का विकल्प मिलने का सबसे ज्यादा लाभ उन फोन वालों को होगा, जिनके फोन का यूएसबी पोर्ट या वाईफाई सेंसर खराब हो गया है। इनमें से किसी भी एक के खराब होने पर ड्राइव पर डेटा बैकअप ऑटोमेटिकली सुरक्षित होना बंद हो जाता है, लेकिन नई सुविधा के बाद ये भी इसका लाभ ले पाएंगे।

कुछ ऐसे चेक करें यह सुविधा
- अपने फोन की गूगल सेटिंग्स में जाकर बैकअप बटन पर क्लिक करें
- बैकअप दबाने पर नीले रंग का 'बैकअप नाऊ' का ऑप्शन आएगा
- 'बैकअप नाऊ' पर क्लिक करते ही फोन के डेटा की कॉपी ड्राइव पर बन जाएगी
- जिन फोन में अभी 'बैकअप नाऊ' का ऑप्शन नहीं दिखेगा, उनमें जल्द ही सॉफ्टवेयर अपडेट आएगा

और पढ़ें ...

पैन कार्ड बनवाने के लिए अब पिता का नाम अनिवार्य नहीं

आयकर विभाग ने अस्थाई खाता संख्या (पैन) आवेदन में आवेदक के पिता-माता के अलग होने की स्थिति में पिता का नाम देने की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है.  अब आवेदक के माता के सिंगल पैरेंट होने की स्थिति में पैन कार्ड के लिए आवेदन करते समय उन्हें पिता का नाम देना अनिवार्य नहीं होगा. सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस (सीबीडीटी) ने एक नोटिफिकेशन जारी करके इस बदलाव की जानकारी दी.

आयकर विभाग ने एक अधिसूचना के जरिये आयकर नियमों में संशोधन किया है. विभाग ने कहा है कि अब आवेदन फॉर्म में ऐसा विकल्प होगा कि माता-पिता के अलग होने की स्थिति में आवेदक मां का नाम दे सकता है.  दरअसल अभी तक पैन आवेदनों में पिता का नाम देना अनिवार्य है. नया नियम पांच दिसंबर से लागू होगा. इस अधिसूचना के जरिये आयकर विभाग ने उन लोगों की चिंता को दूर कर दिया है जिनमें माता-पिता में अकेले मां का ही नाम है. ऐसे में वह व्यक्ति पैन कार्ड पर सिर्फ मां का ही नाम चाहता है, अलग हो चुके पिता का नहीं. 

इस अधिसूचना के जरिये एक वित्त वर्ष में 2.5 लाख रुपये से अधिक का वित्तीय लेनदेन करने वाली इकाइयों के लिए पैन कार्ड के लिए आवेदन करने को अनिवार्य कर दिया गया है. इसके लिए आवेदन आकलन वर्ष के लिए 31 मई या उससे पहले करना होगा.  आयकर विभाग के मुताबिक अब निवासी इकाइयों के लिए उस स्थिति में भी पैन लेना होगा जबकि कुल बिक्री-कारोबार-सकल प्राप्तियां एक वित्त वर्ष में पांच लाख रुपये से अधिक नहीं हों. इससे आयकर विभाग को वित्तीय लेनदेन पर निगाह रखने, अपने कर आधार को व्यापक करने और कर अपवंचना रोकने में मदद मिलेगी.  

और पढ़ें ...