अंदरखाने की बात

अब वरिष्ठ पत्रकार गोपाल दास लेकर आ रहे हैं दौड़ा-दौड़ाकर डॉट कॉम

अब वरिष्ठ पत्रकार गोपाल दास लेकर आ रहे हैं दौड़ा-दौड़ाकर डॉट कॉम

रायपुर. खेल और राजनीति में व्याप्त विद्रूपताओं के खुलासे के लिए मशहूर पत्रकार गोपाल दास बहुत जल्द ही दौड़ा-दौड़ाकर डॉट कॉम लॉच करने वाले हैं. मूलतः छत्तीसगढ़ के रहने वाले गोपाल दास इन दिनों लखनऊ में हैं और वहां की राजनीति और उसके तापमान को देख समझ रहे हैं. माना जा रहा है कि तहजीब की नगरी लखनऊ से बहुत जल्द ही दौड़ा-दौड़ाकर डॉट कॉम लॉच कर दिया जाएगा.

दौड़ा-दौड़ाकर डॉट कॉम... थोड़ा अजीब सा नाम है. लेकिन आजकल नए मीडिया के जमाने में ऐसे ही नामों की चमक हैं. किसको दौड़ाया जाएगा ? और क्यों दौड़ाया जाएगा ? यह पूछे जाने पर गोपाल दास ने बताया कि हमारा प्लेटफार्म मतलब डॉट कॉम किसी को नहीं दौड़ाएगा, लेकिन हम मेन स्ट्रीम मीडिया की खैर...खबर लेने से नहीं चूकेंगे. उन्होंने बताया कि आज का मेन स्ट्रीम मीडिया जनता के मुद्दों से अलग हटकर कुछ भी परोस रहा है. शोषित-पीड़ित जनता की जिन खबरों को हर मीडिया में महत्व मिलना चाहिए उससे अलग मीडिया के कर्ताधर्ता अपने खास एजेंडे के तहत केवल सत्ता की चाटूकारिता में लगे हैं. हम दौड़ा-दौड़ाकर डॉट कॉम में मीडिया की पोल खोलने वाली खबरों को ही महत्व देंगे. हम हर रोज बताएंगे कि कौन से मीडिया में किस खबर को कितनी जगह दी गई है और किस मकसद से खबर गुल कर दी गई है. हमारे प्लेटफार्म पर जनता की राय सर्वोपरि होगी. जनता अगर मीडिया के कारनामों से जुड़े वीडियो हमें भेजेंगे तो हम उसे अपने मंच पर ससम्मान जगह देंगे. मीडिया लाइन से जुड़ी हर क्षेत्र की खबर को कवर करना हमारी प्राथमिकता में शामिल होगा. गोपाल दास ने कहा कि अगर मीडिया ही सुधर जाय तो देश के अन्य तीन स्तंभों में सुधार आ जाएगा. गोपाल दास ने बताया कि देश की जनता मीडिया से बहुत परेशान है. मीडियाकर्मियों के बचकाने सवालों ने उसका जीना दूभर कर रखा है. जनता के सवालों से लगातार दूर जाने का परिणाम यह हुआ है कि अब जनता ही मीडिया को दौड़ा रही है. एक चैनल की पत्रकार अंजना को अगर अमेरिका से गेट आउट कर दिया गया तो उसके पीछे का एक कारण यह भी था कि जनता मीडिया से त्रस्त हो चुकी है.

ये भी पढ़ें...